PM Shree Yojna 2022: 14500 स्कूलों को अपग्रेड करने की महत्वपूर्ण योजना, शिक्षा संबंधित योजना

हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा एक बहुत हीं महत्वपूर्ण योजना का शुभारंभ 5 सितंबर शिक्षक दिवस के अवसर पर किया गया। इस योजना का नाम PM Shree Yojna 2022 है। इस योजना के द्वारा उन्होंने 14500 स्कूलों को अपग्रेड करने की घोषणा की।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने अपने टि्वटर हैंडल के माध्यम से इससे योजना की घोषणा करते हुए लिखा “आज शिक्षक दिवस पर मुझे एक नई पहल की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है। प्रधानमंत्री जी ने यह बात भी कही है कि इस योजना के माध्यम से 14500 स्कूलों का उन्नयन एवं विकास करके अच्छे सुविधा से लैस किया जाएगा जिससे इन में पढ़ने वाले बच्चों का सर्वांगीण विकास और आधुनिकीकरण हो पाएगा।

PM Shree Yojna 2022
image credit – google

PM Shree Yojna 2022

PM Shree Yojna 2022 मैं आई एक नई योजना है जिस योजना के माध्यम से अधिकतर स्कूलों को नई टेक्नोलॉजी और आधुनिकीकरण करके सुनियोजित तरीके से चलाना है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य 14500 स्कूलों को नवीनीकरण एवं उन्नत करके मॉडल स्कूल बनाना है।

PM Shree Yojna 2022 अर्थात प्राइम मिनिस्टर स्कूल फॉर राइजिंग इंडिया योजना के बारे में हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से पूर्ण जानकारी देंगे जिससे आप को इस योजना के बारे में अच्छे से नॉलेज हो जाए और आप भी ऐसे मॉडल स्कूलों में अपने बच्चों को शिक्षा देने में जागरूक हो पायेंगे। इस योजना में नई तकनीक के माध्यम से बच्चों को शिक्षा दी जाएगी जिसमें स्मार्ट क्लासेस आधुनिक खेल एवं खेल उपकरण तथा कंप्यूटर का संपूर्ण ज्ञान की व्यवस्था की जाएगी।

PM Shree Yojna 2022 के द्वारा हम सभी को लगता है कि सचमुच हर स्कूल की दिशा और दशा बदलेगी और आधुनिकीकरण का काफी ख्याल रखा जाएगा जिससे बच्चों में शिक्षा के प्रति काफी रुझान पैदा होगा और उन्हें अच्छे-अच्छे चीजों को सीखने की ललक पैदा होगी। इस योजना के कारण स्कूलों की संरचना भी काफी आधुनिक हो पाएगी और शिक्षा का स्तर काफी ऊंचा उठेगा। बच्चे आधुनिक और विकसित शिक्षा लेकर अपने आप का संपूर्ण विकास कर पाएंगे।

पीएम श्री स्कूल योजना की विशेषताएं

पीएम श्री योजना के निम्नलिखित विशेषताएं हैं-

  • इस योजना के माध्यम से स्कूलों को नवीकरण एवं आधुनिकता प्रदान की जाएगी।
  • PM Shree Yojna 2022 के अंतर्गत आए स्कूलों में राष्ट्रीय शिक्षा नीति की सभी घटकों की झलक मिलेगी।
  • इस योजना के अंतर्गत आए स्कूलों में प्राइमरी से १२वीं कक्षा तक की पढ़ाई होगी।
  • इस योजना के द्वारा अपग्रेड किए गए स्कूलों में आधुनिक तकनीक स्मार्ट शिक्षा एवं आधुनिक ढांचा होगा।
  • लोअर क्लास के बच्चों को अर्थात प्राइमरी एवं प्री प्राइमरी के बच्चों को खेल के माध्यम से शिक्षा प्रदान की जाएगी ताकि उनका मानसिक एवं शारीरिक दोनों प्रकार के विकास हो सके।
  • इन स्कूलों में आधुनिक लैब स्थापित की जाएगी जिससे बच्चे प्रैक्टिकल तरीके से शिक्षा ले सके एवं आसान तरीके से शिक्षा को ग्रहण कर सके।
  • PM Shree Yojna 2022 के लागू हो जाने पर बच्चे इसके अंतर्गत काफी आधुनिक शिक्षा प्राप्त करेंगे जिससे उनका समुचित विकास एवं शिक्षा के प्रति काफी रुझान बढ़ेगा।

पीएम श्री योजना का मुख्य उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य शिक्षा के स्तर में बदलाव लाना एवं आधुनिकीकरण और तकनीकी सिस्टम द्वारा शिक्षा को बढ़ाना है। साथ ही विद्यार्थियों को शिक्षा की ओर रुझान पैदा करना ताकि वह आधुनिक तरीके से शिक्षा हासिल कर सके और अपने आप को अच्छे लेवल तक बढ़ा सकें। इस योजना का उद्देश्य है कि 14500 स्कूलों को अपग्रेड करके स्मार्ट शिक्षा से जोड़ा जाए। इस योजना के दायरे में आए सभी स्कूलों में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के सभी घटकों की झलक देखने को मिलेगी।

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने कहा है कि इन स्कूलों का मुख्य उद्देश्य केवल गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करना ही नहीं बल्कि आधुनिक तरीके से छात्रों में बेहतरीन व्यक्तित्व का विकास करना भी है। इससे संज्ञानात्मक विकास होगा तथा छात्रों में संपूर्ण ज्ञान का प्रसार होगा।

Leave a Comment