अग्निपथ भर्ती प्रवेश योजना: New sena bharti 2022 yojna, Important recruitment for unemployment

अग्निपथ भर्ती प्रवेश योजना क्या है

खबरी हंट में आपका स्वागत है। आज हम बात करने जा रहें है “अग्निपथ भर्ती प्रवेश योजना” के बारे में। दोस्तों आज के समय में बेरोजगारी इतनी ज्यादा बढ़ गई है की सरकार को अब हर क्षेत्रों में अनुबंध के आधार पर नौकरी मुहैया कराने की व्यवस्था करनी पड़ रही है।

अब गवर्मेंट बेरोजगार युवाओं को, जो सेना के रूप में सेवा देना चाहते हैं उनके लिए सेना में भर्ती का नया व अहम रास्ता जल्द खुलने वाला है। सरकार अग्निपथ भर्ती प्रवेश योजना के माध्यम से युवाओं को आरंभिक रूप में तीन साल के लिए सेना में सिपाही के रूप में भर्ती करेगी। इस में भर्ती होने वाले जवानों को 3 साल के अंतर्गत “अग्निवीर” कहा जाएगा। 3 साल के कार्यकाल के बाद रक्षा बलों के अधिकारियों के पास यह सुविधा रहेगी कि इनमें से जो सैनिक अच्छा काम करें उन्हें आगे के सेवा में रखा जा सकता है।

अग्निपथ भर्ती प्रवेश योजना
अग्निपथ भर्ती प्रवेश योजना

नियुक्ति प्रक्रिया का प्रकार

भारत सरकार इस योजना का मुद्दा 2 साल पहले शुरू किया था जब सुरक्षा बलों ‘टूर ऑफ ड्यूटी योजना’ पर चर्चा शुरू की थी। अग्निपथ सेना भर्ती योजना में सैनिकों को एक अल्पकालिक अनुबंध के तहत भर्ती किया जाएगा। उन्हें प्रशिक्षित किया जाएगा और विभिन्न क्षेत्रों में तैनात किया जाएगा। इस सेना भर्ती योजना में रक्षा बलों के पास विशिष्ट कार्यों के लिए विशेषज्ञों की भर्ती करने का विकल्प भी होगा। हाल फिलहाल के समय में तीनों सेनाओं में 1.25 लाख से ज्यादा पद रिक्त हैं। इस अग्निपथ योजना को अंतिम रूप देने के लिए सरकार को संबंधित विभागों के साथ कुछ और बैठकों की आवश्यकता होगी।

अनुबंध समाप्त होने के बाद क्या करेंगे सैनिक

शुरुआती योजना के अनुसार रक्षा सेवा का तीन साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद इन “अग्निवीरों” को निजी क्षेत्र में सिविल नौकरियां दी जाएंगी। कई कंपनियों ने इन अग्निवीरों को सेवा में रखने में रुचि दिखाई है। इन कंपनियों को सैन्य प्रशिक्षण प्राप्त व अनुशासित जवानों का लाभ मिलेगा। इस योजना को अंतिम रूप देने की चर्चा अंतिम स्तर पर है। सूत्रों के अनुसार तीनों सेना फिलहाल योजना के संचालन का प्रस्तुतीकरण दे रही हैं। सरकार के शीर्ष स्तर पर प्रस्तुतियां दी जा चुकी हैं। शीर्ष नेतृत्व का योजना का पूरा समर्थन है।

अग्निपथ भर्ती प्रवेश योजना के लिए पात्रता

इस सेना भर्ती के लिए निम्न प्रकार के व्यक्ति पात्र होंगे:

  • जो व्यक्ति iit एवं अन्य प्रोफेशनल विषयों में जानकारी रखते होंगे।
  • जो महत्वपूर्ण कार्यों के जानकार हों
  • जिन्हे देश सेवा करने की ललक हो
  • जो खुफिया और तेज दिमाग रखते हों
  • अग्नीपथ भर्ती प्रवेश योजना में आवेदन करने के लिए या भर्ती प्रक्रिया में जाने के लिए भारतीय नागरिक होना अति आवश्यक है।
  • इस योजना में भर्ती होने के लिए अभ्यर्थी का उम्र साढ़े 17 साल से लेकर 21 साल के बीच होना चाहिए।
  • आवेदक अभ्यर्थी को दसवीं और 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण होना आवश्यक है।
  • अगर कोई अभ्यर्थी दसवीं पास करके ही इस योजना में आवेदन कर रहे हैं तो उन्हें ट्रेनिंग के दौरान 12वीं की पढ़ाई भी करवाई जाएगी।

इन सैनिक युवाओं को कड़ी ट्रेनिंग देने के बाद जम्मू कश्मीर और पूर्वोत्तर में तैनात किया जाएगा। इन्हे महत्वपूर्ण और संवेदनशील कार्य जैसे की – आतंकी गतिविधियों से निपटना , खुफिया जानकारी जुटाना व सूचना तकनीकी से संबंधित महत्वपूर्ण कार्यों का जिम्मा दिया जाएगा।

अपडेट:- भारत सरकार के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार 14 जून को अग्निपथ भर्ती योजना की मंजूरी दे दी है इस तरह से अब यह योजना धरातल पर उतरने वाली है जिससे हमारे देश के बेरोजगार युवाओं को भारतीय सैन्य बल के सेवाओं में जाने का मौका मिलेगा।

इस योजना के लिए क्या-क्या मानदंड और क्या-क्या सुविधाएं मिलने वाली है इन सभी चीजों का जिक्र है उन्होंने किया है और उन सभी जी करो को इस पोस्ट में हम करने जा रहे हैं इसे आप पूरे ध्यान से पढ़िए और इसका लाभ उठाइए।

अग्नीपथ भर्ती प्रवेश योजना कि अनुबंध था 3 साल से बढ़ाकर 4 साल की कर दी गई है इन 4 सालों के अंतर्गत अभ्यर्थी को क्या-क्या सुविधाएं प्रदान की जाएगी इसके बारे में नीचे दी गई सूचनाओं को देख सकते हैं:-

  • इस योजना में जो 4 साल का कार्यकाल बनाया गया है इसके अंतर्गत 6 महीने अभ्यर्थी को प्रशिक्षण अर्थात ट्रेनिंग दिया जाएगा।
  • प्रशिक्षण पूरा करने के बाद ही इन अभ्यर्थियों को देश के सैनिकों के साथ देश की सेवा करने का मौका दिया जाएगा।
  • 4 साल का सेवाकाल पूरा करने के बाद यह अग्निवीर अपनी इच्छा अनुसार रेगुलर कैडर के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • सूचना अनुसार अग्नि वीरों में से रेगुलर कैडर के लिए 25% अभ्यर्थी को ही जगह दिया जाएगा।
  • और बाकी 75 फ़ीसदी अग्नि वीरों को जो अपना सेवाकाल पूरा कर चुके हैं उन 4 सालों के बाद घर भेज दिया जाएगा।
  • जो जवान 4 साल का सेवा कार्य पूरा करने के बाद अपने घर जाएंगे उन्हें सरकार की तरफ से स्वरोजगार के लिए काबिल बनाया जाएगा।
  • इनके अलावा अन्य सरकारी भर्ती एवं सशस्त्र बलों की भर्ती प्रक्रिया में प्राथमिकता दी जाएगी।
  • इन अग्नि वीरों को पूर्व सैनिक के कोटे का भी लाभ प्राप्त होगा।

अग्नि वीरों को मिलने वाली वेतन और सुविधाएं

वर्षमूल वेतनकटौतीप्रतिमाह का वेतन
पहले वर्ष30000900021000
दुसरे वर्ष33000990023100
तिसरे वर्ष365001095025580
चौथे वर्ष400001200028000
अग्निपथ भर्ती प्रवेश योजना

अग्निपथ भर्ती प्रवेश योजना के अंतर्गत बिहार के लिए एक नई अपडेट आई है। जी हां अब बिहार में भी अग्नीपथ प्रवेश योजना के अग्निवीर स्कीम में बिहार के युवाओं का चयन प्रक्रिया शुरू होने वाली है। रक्षा मंत्रालय ने बिहार में भी अग्निवीर की भर्ती परीक्षा शुरू करने के लिए निर्णय लिया है।

इस स्कीम में 7 अक्टूबर से बिहार के युवक भी अग्निवीर स्कीम के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए युवा अभ्यर्थियों को अगस्त तक इससे संबंधित डिफेंस मिनिस्ट्री के पोर्टल पर आवेदन करना पड़ेगा।

अग्निपथ भर्ती प्रवेश योजना में 11वीं और 12वीं की न्यूनतम योग्यता वाले कैंडिडेट्स हीं शामिल हो सकेंगे। वो सामान्य ड्यूटी, क्लर्क, स्टोरकीपर, एविएशन में तकनीशियन, गोला-बारूद परीक्षक और ट्रेड्समैन की पोस्ट के लिए आवेदन कर सकते हैं।

अगर आप भक्ति भजन गानों का लिरिक्स पसंद करते हैं तो जरूर इस वेबसाइट पर देखें भक्ति भजन गानों के लिरिक्स का भंडार।

Leave a Comment